All Golpo Are Fake And Dream Of Writer, Do Not Try It In Your Life

रेप ???? न न न न ……मज़ा ……पति + चार 1


Hindi Sex Stories Antarvasna Kamukta Sex Kahani Indian Sex Chudai

Antarvasna मेरा नाम आरती है ..मेरी उम्र ३४ साल और मेरे पति अमित ४० साल के हैं …मेरे दो बच्चे हैं ……..मैंने यहाँ बोहत सी कहानिया पड़ी तो सोचा की मैं अपने साथ बीती कहानी भी बताऊँ ……

तीन साल पहले की बात है .अमित के किसी रिश्तेदार के घर का महूरत था नाहन में पौंटा के पास …….उसी दिन हमारी शादी की सालगिरह भी थी ….तो अमित ने मंसूरी मैं होटल बुक करवाया …बच्चों को मैंने अपने माता पता के घर छोड़ दिया ! महूरत के बाद लगभग चार बजे हम मंसूरी के लिए निकले ……अभी हम देहरादून से पंद्रह -बीस किलोमीटर पीछे थे कि हमारी कार बंद हो गई.,…..अमित ने चेक किया तो पता चला कि किसी ने पट्रोल निकाल लिया था …..अक्तूबर का महिना था और शाम हो चुकी थी ……आस पास जंगल था ….अमित ने कहा कोई गाड़ी आएगी तो उससे मदद मांगते हैं ………बोहत देर बीत जाने के बाद देहरादून कि तरफ से एक बस आई ….बस रोकने पर ड्राईवर बोला ..”आज हड़ताल है इसलिए गाडिया नहीं आयेंगी ….और यह जंगल है और खतरनाक इलाका है आप बस में आ जाओ …सुबह गाड़ी ले के आगे चले जाना ” पर अमित ने मन कर दिया !.

बस जाने के एक घंटे बाद पोंटा कि तरफ से एक सफारी जीप आई अमित ने उन्हें रोका सफारी में दो लड़के थे पचीस -छबीस के …दोनों बोहत भले लग रहे थे और हमने अपनी प्रॉब्लम बताई ….. ….तो वो बोले कि हमारी गाड़ी तो डीज़ल वाली है ….यहाँ से एक किलोमीटर आगे हमारा फार्म हाउस है वहां पेट्रोल वाली गाड़ी है वहां से आप तेल डलवा के आगे चले जाना …यह कहानी देसिबीस डॉट कॉम पर पढ़ रहे रहे ।

उन्होंने अपनी गाड़ी के पीछे हमारी कार बांधी और चल पड़े ….अँधेरा हो चुका था …….एक किलोमीटर आगे जा के उन्होंने गाड़ी एक छोटी सड़क कि तरफ मोड़ दी ….काफी आगे जा के एक बोहत ही बड़ा फार्म हाउस आया ….वहां दो बड़ी कारें खड़ी थी …. उन लड़कों में से एक का नाम सोनू दूसरे का विक्की था…..विक्की बोला ” सोनू तुम गाड़ी में तेल डालो तब तक यह लोग कुछ फ्रेश हो ले और चाय पी लें ” अमित ने मना किया पर दोनों ने जब बोहत कहा तो अमित मान गया ……फार्म हाउस अन्दर से भी बोहत बड़ा था…..मैं बाथरूम गई और अमित विक्की के साथ बैठ कर बातें करने लगा ……..दस मिनट बाद जब मैं बाहर आई तो मेरे पैरो तले से जमीन ही निकाल गई ….अमित कुर्सी पर बंधा था …..उसका मुहँ भी बंधा था ……..वहां दो और लड़के भी थे …..मैं जोर से चीखी ….और अमित कि तरफ भागी …विक्की ने मुझे पकड़ लिया और सोनू ने अमित कि गर्दन पर चाकू रख दिया ….विक्की बोला ” अगर चीखना -चिल्लाना है जितनी मर्जी जोर से चीखो यहाँ कोई सुनने वाला नहीं है …बेहतर होगा कि आराम से बैठ कर बात सुनो” मैं अमित के पास बैठ गई !यह कहानी देसिबीस डॉट कॉम पर पढ़ रहे रहे ।

अमित बोला “यह मेरा फारम हाउस है….मेरे पिता बोहत बड़े आदमी है हमारा इस इलाके मैं बोहत दबदबा है……यह मेरे दोस्त हैं अली और मिंटू …..सोनू को तो तुम मिल ही चुके हो…..आज हमारा यहाँ रंडी चोदने का प्रोग्राम था पर वोह हरामजादी ऐन मौके पर दगा दे गई …..पर हमारी किस्मत से तुम मिल गई……..अब ये तुम पर है कि आराम से चुदवाती हो या जबरदस्ती से” ….मैं रोने लग पड़ी और उनकी मिन्नते करने लगी पर उन पर कोई असर न हुआ ……..विक्की बोला “कपडे फाड़ कर नंगी करो साली को ” मैं हाथ जोड़ने लगी …..तभी अमित सर हिलाने लगा और गूं-गूं करने लगा जैसे कुछ कहना चाहता हो…..अली ने अमित का मुहँ खोल दिया ……..अमित बोला ” मुझे खोल दो मैं इसे समझाता हूँ” अली बोला” कोई चालाकी कि तो मार कर यही गाढ़ देंगे ….और अमित को खोल दिया …….अमित बोला ” आप लोग बाहर जाओ मैं इससे बात करता हूँ …….वोह लोग बाहर चले गए ..अमित ने मुझे अपनी बाँहों में ले लिया और कहा ” देखो आरती हम यहाँ बुरी तरह फंस चुके है …..यह हमें ऐसे तो छोडेगे नहीं …..बेहतर हो तुम आराम से इन्हें करने दो नहीं तो यह जबरदस्ती करेंगे और तुम्हे तकलीफ भी देंगे ….में इनसे मिन्नत करूँगा कि तुमसे आराम से करें और तुम्हे किसी तरह का नुक्सान न पहुंचाए ”यह कहानी देसिबीस डॉट कॉम पर पढ़ रहे रहे ।

मैं रोने लगी पर अमित ने बोहत समझाया और कहा मैं हूँ न तुम्हारे साथ …….और अमित मुझे लेकर बाहर आ गया ॥वोह चारो लोब्बी मैं बैठ कर व्हिस्की पी रहे थे ….अमित बोले ” आरती आप लोगो के साथ करने के लिए तैयार है पर हमारी बिनती है कि आप लोग गलियां वागेरह मत निकलना और जब आरती बस बोले तो उसे आराम देना ….और व्हिस्की कम पियें ताकि कोई नुक्सान न हो प्लीज़ ” विक्की बोला ” हम भी आराम से चोदना और मज़ा लेना चाहते है …..हम आप लोगो का नुक्सान नहीं करेंगे ” अमित बोला ” हमें भी पैग बना कर दो” ……..मैं कभी कभी अमित के साथ आधा पैग शेयर कर लेती थी सोनू पैग बनाने लगा तो अमित बोला पैग मैं बनाऊंगा …….अमित साइड बार पर जा कर दो पैग बना लाया ….मेरे लिए कोक वाली………हम बैठ कर बातें करने लगे और पैग लगते रहे ……मेरे को अभी भी कुछ डर लग रहा था …पैग ख़तम होने पर अमित दो और पैग बना लाया …मैंने मना किया तो अमित ने कहा पी लो ये तुम्हारे भले के लिए ही है ………मुझे नशा होने लगा था …..फिर अमित ने सब से कहा अब व्हिस्की बस और सब अन्दर चलो …..हम सब बेडरूम में आ गए ……अमित मुझे बेड पर ले आया और सब से बोला आपने कपडे उतार दो ……फिर अमित मेरे को किस करने लगा और मेरे मोमे मसलने लगा ……..अमित ने मेरा टॉप उतार दिया …….. फिर मेरी जींस को आराम से उतार दिया मेर आँखे बंद थी …अमित मुझ से बोला कि आँखे खोलूं ……चारो बेड के पास नंगे खड़े थे ……सब अपने अपने लंड को मसल रहे थे …….सब के लंड एकदम खड़े थे ……विक्की का लंड बड़ा था पर अली का……..बोहत बड़ा और मोटा था ….आगे से तीखा और मास कटा हुआ……..अमित बोला अब पैंटी भी में ही निकलूं क्या …..तो सब लड़के बेड पर आ गए और मेरे को भी नंगी कर दिया…………यह कहानी देसिबीस डॉट कॉम पर पढ़ रहे रहे ।

मैं बेड पर नंगी चारो लड़कों के बीच पड़ी थी ..अमित बेड से उतर कर सोफे पे जा बेठा ……मैंने आँखें बंद कर ली…..मुझे खूब नशा हो चूका था …….मुझे वोह सब फिल्में और फोटो याद आ रही थी जो मैंने अमित के साथ कम्पूटर पर देखी थी…..जिनमे एक औरत कई मर्दों के साथ सेक्स करती है …..ऐसी बहुत सी फिल्म फोटो हमने देखी थी………..मैं वोह सब सोच कर बहुत गरम हो गई थी …..मैंने आँखें खोल कर देखा ….विक्की मेरी टांगो के बीच बैठा था …उसने मेरी चूत को सहलाना शुरू कर दिया …..मिंटू और सोनू ने मेरी चुचिओं को अपने मुहँ में ले लिया ….अली ने अपना मोटा तगड़ा लैंड मेरे मुहँ में दे दिया ……कुछ देर बाद विक्की ने मेरी चूत को चाटना शुरू कर दिया ……..उसने अपनी जीभ पूरी अन्दर कर दी ……..मैं सिसक उठी ………मैं बहुत गरम हो चुकी थी…….मैंने अपनी चूत ऊपर नीचे करनी शुरू कर दी….बहुत मज़ा आ रहा था……मैंने सोनू और मिंटू के लंड पकड़ कर सहलाना शुरू कर दिया ………..मेरे बदन पर सब हाथ फेर रहे थे……..कुछ देर बाद विक्की ने अपना लंड मेरी चूत मैं डाल दिया……..उसके तीन चार धको मैं ही मैं खलास हो गई …पर वोह अपनी स्पीड पर धक्के लगता रहा……मैं पूरा मज़ा ले रही थी….

थोडी ही देर मैं मैं मस्त हो कर चूत उछालने लगी …….विक्की ने भी अपनी स्पीड बढा दी…….दस मिनट बाद वोह और मैं इकठे ही खलास हो गए……विक्की सोफे पे जा बैठा …….अब मिंटू उसकी जगह पर आ गया ……..उसके बाद सोनू……….जब तीनो का काम हो गया मैं भी थक गई थी ……मेरी चूत और टांगे दुखने लगी थी………इतनी देर से ऊपर जो उठी थी………अली अब तक नहीं झडा था……….मैंने अपनी टांगे फैला कर लेट गई…..अली ने अपना लंड निकल लिया और मेरी चुचिओं से खेलने लगा ….कुछ देर बाद अली ने मुझे उल्टा लिटा दिया और मेरी गांड पर लंड रगड़ने लगा……मैंने मना किया और कहा मैंने कभी ऐसा नहीं किया है……तो वोह बोला कभी पहले एक साथ चार से चुदवाई थी…….नहीं न …….तो इसका भी मज़ा ले लो आज ……मैंने कहा तुम्हारा बहुत बड़ा है……तो वोह बोला ….मज़ा भी बड़ा ही आएगा ……..उसने विक्की और सोनू को भी बेड पर बुला लिया……विक्की मेरे सामने लेट गया और अपना लंड मेरे मुहँ में दे दिया….मैं उसका लंड चूसने लगी ……..सोनू मेरे स्तन चूसने लगा……..अली ने मुझे कुतियाकी तरह कर के मेरी गांड पर खूब थूक लगे ….यह कहानी देसिबीस डॉट कॉम पर पढ़ रहे रहे ।.फिर वोह अपना लंड रगड़ने लगा …….उसने एक जोर का धक्का मारा और उसका मोटा लंड मेरी गांड मैं थोडा सा घुस गया…..मैं चीखना चाहती थी पर विक्की ने मेरा सर पकड़ कर अपने लंड पर दबा दिया……उसका लंड मेरे मुहँ मैं था और उसने जोर से मेरा सर पकड़ रखा था ……अली ने फिर धक्का मारा और सारा लंड अन्दर……..मुझे लगा किसी ने मोटा पाइप गरम करके मेरी कुवारी गांड मैं दे दिया है………..मेरी आँखों मैं आंसू आ गए………अली धीरे धीरे आगे पीछे होने लगा……..कुछ ही देर मैं मेरा दर्द जाता रहा…….और मुझे मुझे मज़ा आने लगा ………विक्की नै तब अपने हाथ हटा लिए………मैंने विक्की का लंड हाथ मैं ले लिया और साथ ही उसका लंड चूसने लगी………मिंटू मुझे आ कर मेरी चूची से खेलने लगा……..बहुत देर यही पोजीशन रही………फिर विक्की झड़ गया …….मैंने उसका सारा वीर्य पी लिया…….बहुत अछी तरह से उसका लंड साफ़ कर दिया ……..फिर मिंटू ने अपना लंड मेरे मुहँ मैं दे दिया ………..जब उसका छुटा तभी अली का काम मुझे हो गया……….उसके बाद सोनू ने अपना लंड मेरी गांड मैं दे दिया……..जब वोह झडा ……उसके बाद मैं एकदम निडाल हो कर बिस्तर पर पसर गई…….और अपनी आँखें बंद कर ली………..मेरा अंग अंग दुःख रहा था पर मुझे ऐसा लग रहा था जैसे मैं जन्नत मैं हूँ…….व्हिस्की और चार लंड का नशा मुझ पर छाया हुआ था ………बहुत देर मैं ऐसे ही लेटी रही यह कहानी देसिबीस डॉट कॉम पर पढ़ रहे रहे ।

कुछ देर ऐसे ही आराम करने के बाद विक्की बोला चल कुछ खा पी लेते हैं ……सब लड़कों ने अपने अंडर विअर डाले मैंने भी पैंटी और अपना टॉप डाल लिया …..हम सब बाहर आ गए ……लड़कों ने डिन्नर टेबल पर लगाया ……..चिक्केन …मट्टन…चपतिया…सलाद …सब कुछ था ……अमित ने पूछा के यह खाना कहाँ से आया तो विक्की बोला ….. हम सब का यहाँ रंडी लाने का प्रोग्राम था … मैं और सोनू रंडी लेने गए थे ….मटन –चिक्कन ..अली ने बनाया था ….चापतिया नोकर ने……जब हम लोगो को कॉल गर्ल नहीं मिली और तुम जब मिल गए …..तो हमने अली को फोन करके नोकरो को उनके क्वाटरो में भेज दिया ….और अली ,मिंटू को छुप जाने को कहा था………फिर हमने खाना खाया …अली पैग लगाना चाहता था पर अमित ने मना कर दिया…….खाने के बाद हम सोफे पे बैठ कर बातें करने लगे…….सब लड़कों के बड़ा कसरती बदन थे……..अली बोला …अमित भाई ..पैग नहीं red wine तो पी सकतें हैं …अमित बोला ठीक है …..में अमित के साथ बैठी थी….अली मेरे साथ आ के बैठ गया ….wine पीते पीते अली मेरी लातों पर हाथ फिराने लगा ….और बोला ..हमने यहाँ बहुत काल गर्ल के साथ सेक्स किया ….हर लड़की एक बार में एक लड़के को ही चड़ने देती थी…… और कोई भी इतने जोश के साथ नहीं करती थी ……अमित भाई भाभी बहुत गरम है…….विक्की बोला ……सही बात है ….कोई भी इतने मज़े से लंड नहीं चूसती …..सारा माल पी लिया भाभी ने …..मेरा जिन्दगी में ऐसा किसी ने नहीं चूसा ……अमित बोला ….ये मेरी दी हुई ट्रेनिंग है……..वैसे भी आज हमारी शादी की सालगिरह है ……..सब लड़कों ने हमें मुबारक बाद दी……मैं गर्म हो रही थी अपनी तारीफ़ सुन कर…….मैं उठ गई और बोली चलो सोने चलतें हैं …..अमित हँस पड़ा और बोला …देखो कैसे मचल रही है चुदने को…….मुझे शर्म आ गई ….मैं बोली मैं तो ऐसे ही कह रही थी…..सब हसने लगे ……….यह कहानी देसिबीस डॉट कॉम पर पढ़ रहे रहे ।हम सब बेड रूम मैं आ गए ……अमित सोफे पे लेट गया ….मैं बेड पर बैठ गई…….अली बोला ……भाभी अब तुम अपनी मर्ज़ी से करो हमारे साथ ….मैंने अमित की तरफ देखा ..तो अमित बोला मेरी तरफ क्या देख रही हो …मज़ा करो……..जैसा तुम्हे अछा लगे……..मैंने अपना टॉप पैंटी उतार दी …लड़के भी एकदम नंगे हो गए ……सब के लंड तने हुए थे ………मैंने अली को बोला की वोह लेट जाये……मैंने जब से अली का लंड देखा था …मेरी चूत में कुछ कुछ हो रहा था …..में कब से उसे अन्दर लेना चाहती थी…..पर वोह गांड मारने का शोकीन था……अली को नीचे लिटा कर में उसके ऊपर बैठ गई ……मैंने उसका लंड पकड़ कर चूत में डलवाना शुरू कर दिया……धीरे धीरे सारा लंड अन्दर चला गया ……….उसके बाद मैंने मिंटू को बोला की मेरी चुचिओं को मसलता रहे और चूसता रहे ……..सोनू का लंड मैंने मुहँ में ले लिया ……..फिर मैंने विक्की को बोला की अपना लंड मेरी गांड में दे दे ……..विक्की ने वैसा ही किया…. मुझे अन्दर दोनों के लंड टक्कर लगाते लग रहे थे ….मेरी चूत और गांड बहुत चिकनी महसूस हो रही थी अन्दर से …………मुझे बहुत मज़ा आ रहा था …मुझे लग रहा था की मैं किसी ब्लू फिल्म की हेरोइन हूँ …….मैं जोर जोर से चूत रगड़ रही थी और धक्के लगा रही थी …..लंड चूस रही थी ……चुचिया चुसवा रही थी…………..विक्की और अली भी जोर से धक्के लगा रहे थे …….. मैं बहुत मस्ती में थी और सिस्किया ले रही थी ….दस मिनट बाद विक्की झड़ गया और अपना गर्म वीर्य मेरे अंदर उडेल दिया ……विक्की दुसरे सोफे पे जा बैठा ….मैंने मिंटू को विक्की की जगह लेने को बोला …….मिंटू जोर जोर से मेरी गांड मारने लग गया …….मैं सोनू का लंड चोकलेट कुल्फी की तरह चूस रही थी ……..पूरा का पूरा लंड ….गले तक जा रहा था ……..तभी सोनू झड़ गया ….सारा का सारा माल मैं पी गई …..एक बूंद भी ख़राब नहीं होने दी…….पूरी तरह से साफ़ कर दिया ……….वोह भी निडाल हो के लेट गया ……यह कहानी देसिबीस डॉट कॉम पर पढ़ रहे रहे ।मिंटू और अली जोर जोर से धक्के मार रहे थे ……..कुछ देर बाद मिंटू भी झड़ गया ………अली अब भी भी मैदान में था…..मैं जोर जोर से चूत उछालने लगी ………जिंदगी मैं इतना बड़ा लंड पहली बार अंदर गया था ….मैं पुरे जोश में थी…….तभी अली ने जोर से मेरी चुचिया खीच ली …..वोह भी झड़ गया …मैं तो कई बार झड़ चुकी थी………मैंने उठ कर अली का लंड मुहँ मैं ले लिया ,………उसके और मेरे माल का स्वाद बहुत अछा लग रहा था मुझे ……..पूरा लंड अछी तरह से साफ़ करने के बाद मैंने देखा ..अमित मुस्करा रहा था …..मैं अमित के पास गई और उसको नंगा करके उसके ऊपर बैठ कर लंड अन्दर ले कर अमित की सवारी करने लगी ………कुछ ही देर मैं वोह भी झड़ गया ……कयोंकि वोह लाइव मूवी देख कर काफी उतेजित था …..मैंने उसका लंड भी चाट चाट कर साफ़ कर दिया यह कहानी देसिबीस डॉट कॉम पर पढ़ रहे रहे ।

बहुत थकावट हो रही थी इसलिए मैं बेड पर लेट गई ..कब मुझे नींद आ गई पता ही न चला …….सुबह जब नींद टूटी……तो देखा अली ,मिंटू, सोनू मेरे साथ सो रहे थे नंगे ……..अमित सोफे पर था ….विक्की दुसरे सोफे पर था…….मेरा सारा बदन दुःख रहा था …….मैं बाथ रूम गई ….फ्रेश हुई……बाहर आई तो सब उठ गए……….मैंने अपनी टी शर्ट डाल ली ……सब फ्रेश होने लगे बारी बारी ………..फ्रेश होने के बाद अली और सोनू चाय और बिस्कुट ले आये ……..चाय पी कर हम बाहर आ गए ….विक्की ने हमें सारा फार्म हाउस दिखाया ….बहुत ही सुन्दर और बढिया फार्म हाउस था…………अमित बोला चलो अब नहा कर नाश्ता कर ले और हम जब अब जाना चाहते है ……….विक्की बोला ….अमित यार आज रात और रुक जाओ ……बहुत ही मज़ा आया ….आज कहीं चलते है आसपास घुमने ……रात को फिर मज़ा करेंगे ……………वैसे तुम भी तो मज़ा कर रहे हो न …….अमित बोले ….हाँ …बहुत सालों से मेरे मन में था की इस को कोई मेरे सामने चोदे …….कंप्युटर पर जब लोग अपनी बीवी दिखाते ….उनकी फोटो दिखाते ….तब मेरे मन भी आता था ……इसकी फोटो खींच कर कंप्युटर पर लगाऊ……….पर ये नहीं मानती थी……अली बोला …..वह भाई जान ….फिर तो रुक जाओ ….आज अपने स्टाइल से चुदवाना भाभी को……..अमित बोला ……नहीं …एक काम करो …….अभी एक बार कर लेते हैं …..फिर हम लोग जायेंगे …….आप अपना नंबर दे दो …….अगर हमारा मूड बना तो हम कल यहाँ वापिस आ जायेंगे ………..अली विक्की सब अपने नंबर दे दिए……..मुझे मज़ा आ रहा था …..मैं जाना नहीं चाहती थी …रहना चाहती थी वहां पर……..पर …………..फिर अमित मुझे बोला …कि नहा लो……..जब मैं जब नहा कर बाहर आई ….अमित ने ओम्लेट बनवा कर रखे थे …. अमित ने मुझे टेबल पर लिटा दिया …..अमित ने मेरे बदन पर ओम्लेट रख कर …सोस लगा दी …..चुचियो पर ….लातो पर …मुहँ पर ……चूत पर…….सब जगह……फिर सब लोग मेरे बदन पर से चाट चाट कर सोस और ओम्लेट खाने लगे …………..पांचो नंगो के लंड खड़े थे ……….मेरे बदन में आग लगी थी …………विक्की ने अपना लंड सोस लगा कर मेरे मुहँ में दे दिया ……सोनू मिंटू चुचिओं को चूसने लगे ………अमित चूत चाटने लगा ……..अली मेरी टांगो से सोस चाट रहा था ……कि एकदम दरवाज़ा खुला और ……………..


The post रेप ???? न न न न ……मज़ा ……पति + चार 1 appeared first on Hindi Sex.




रेप ???? न न न न ……मज़ा ……पति + चार 1

No comments:

Post a Comment

Facebook Comment

Blogger Tips and TricksLatest Tips And TricksBlogger Tricks