All Golpo Are Fake And Dream Of Writer, Do Not Try It In Your Life

फ़ौजी आंटी का पानी निकाला पाँच बार


मेरा नाम अशोक है और मैं चंडीगढ़ में रहता हूँ|

हमारे घर की पहली मज़िल को एक फ़ौजी अफ़सर ने किराए पे लिया Hindi Sex Stories Antarvasna Kamukta Sex Kahani Indian Sex Chudai Antarvasna ऑफीसर तो बाहर पोस्टेड था मगर उसकी बीवी और 8 साल का बेटा अपनी स्टडी के कारण वहाँ शिफ्ट हो गया| बीवी देखने मे तो कुछ खास नहीं थी मगर हाँ जब वो चलती थी उसके बड़े बूब्स मुझे उतेजित कर देते थे…..एक दो महीने उसने हेलो हाई के इलावा कोई रेस्पॉन्स नही दिया| मैं घर के पीछे जाके उसके ब्रा और पेयेंटी को सूखता देखकर मूठ मार लेता था| एक दिन उसने तकरीबन सुबह 9:30 बजे मुझे आवाज़ मारी और कहा की मेरे कंप्यूटर में वाइरस आ गया है….क्या तुम उसे ठीक कर सकते हो…..मेरे पास वाइरस रिमूव करने का सॉफ्टवेर था क्यूंकी मैं सॉफ्टवेर कंपनी में काम करता हूँ…..मैं ऊपर गया और उसके इंटरनेट ब्राउज़र की हिस्टरी डेलीट करने लगा…..मैने देखा की वो तो कई बार सेक्सी साइट्स पर डेली जाती है…..मैं समझ गया की यह छोटा सा वाइरस सिर्फ़ उन्ही साइट्स से आया होगा जो की अक्सर होता है| मैने बड़े हौसले से सोनाली को बुलाया और कहा की आपकी एक सीक्रेट मुझे पता चल गयी है…..उसने हैरानी जताई और हंस के बोली ऐसी कौन सी सीक्रेट तो मैने कहा की यह जो वाइरस तुम बता रही हो यह उन्ही साइट्स से आया है जिन पर तुम रोज़ जाती हो…..वो हैरान हो गयी और मज़े से पूछा कौन सी साइट की बात कर रहे हो तुम……मैने उसे उसी वक़्त एक सेक्सी साइट खोल कर दिखाई…..साइट देखकर उसकी आँखें मचलने लगी…..और तभी मेरी दादी ने ज़ोर से मुझे आवाज़ लगा दी……मेरा खड़ा हुआ लंड एक दम नरम हो गया…….दादी को भी अभी आवाज़ लगानी थी….मैने सोनाली को कहा मैं अभी आता हूँ…..तुम साइट्स देखने के लिए तैयार रहना…..वो मुस्कुरई और मैं दादी को मिलने चला गया……मुझे ऑफीस जाना था……मगर ऑफीस की माँ की चूत मैने सोचा……जल्दी दादी को कहा की मैं ऑफीस के लिए लाते हो रहा हूँ और मैं ब्रेकफास्ट नहीं करूँगा…..तुम कमरे में रेस्ट करो और मैं शाम को मिलता हूँ…….हमारी दादी हमारे पास ही रहती है और मेरा बहुत ख्याल रखती है…..मैं दादी से आँख बचा के चुपके से उपर पहली मज़िल पर चला गया……वहाँ सोनाली अपने कंप्यूटर पर पहले से ही सेक्सी वेबसाइट देख रही थी…..उसकी नाइटी उसके टाँगों से उपर थी…..लगता था वो तो तैयार है……मैने पीछे से जाकर उसके बूब्स को पकड़ लिया……वो एक दम हैरान हो गयी……उसकी नाइटी पिंक कलर की थी और मैं उसकी गर्दन को चाटने लग पड़ा……उसने ज़ोर से आआअहह किया ससे बोला तो नही गया पर सर हिलाके हाँ कह दिया……इसी बीच मेरे होंठ उसकी घाण्ड की तरफ गये और दोनो पीसीस को मैं चाटने लगा…..उसके खुशी का कोई ठिकाना नहीं था ……लगता था जैसे उसके पति ने कभी वहाँ हाथ भी नही लगाया था…..मैने उसके दोनो फूल खोले और अपना मूह उनमे डाल दिया……वो तो ज़ोर ज़ोर से आहें भरने लगी….मैं चाट ता गया और वो ज़ोर से अपनी गांद को मेरे मूह में पुश कर रही थी……तभी उसका शरीर ज़ोर से हिला और वो दूसरी बार झड़ गयी…….उसने कहा अर्रे तुम ने तो जादू कर दिया…… मेरी चूत दो बार पानी पानी हो गयी और अभी सारा काम बाकी है…..मैं मुस्कुराया और उसकी टाँगों को चाटने लगा…….उसका पानी उसके घुटनो तक आ गया था…..मैने उसे भी चाट लिया……और फिर उसके बूब्स की मालिश करनी शुरू कर दी और अपनी दो उंगली उसकी गांद मे दे डाली…….मेरा लंड पूरा खड़ा था और उसके पेट को टच कर रहा था……मैने अपने लंड को उसकी नाभि के उपर रख के हिलाना चालू कर दिया……वो मदहोश हो रही थी……और जल्दी मेरा लंड चूत में मे लेना चाहती थी…..मैने आज तक जिन भी आंटी, लड़की को चोदा है…..मेरा यही मकसद रहा है की औरत को पूरी रेस्पेक्ट दी जाए और उसके हर एहसास को पहचाना जाए…..शायद यही सीक्रेट है मेरे सेक्सी जीवन का…..मैने उसके बूब्स को अपने हाथों में लिया और चाटने लग पड़ा……..मेरा घुटना उसकी चूत को सेल्हा रहा था और वो और भी ज़ियादा पानी छोड़ रही थी…..मैने नोटीस किया की मैने उसकी पेंटी तो उतारी ही नही है….सारा मॅजिक वैसे ही चालू है…..मैं नीचे बैठ गया और अपने दातों से उससे नीचे की ओर खिसकाने लगा….उसे मेरा यह ट्रिक काफ़ी अच्छा लगा और जब पेयेंटी नीचे उतर गयी वो मुझे उठाके किस करने लगी……वा क्या टेस्ट था उसका……मुआअहह…….अब मेरा मूह उसके पेट को चाटने लगा……सर्लकल में……फिर नाभि को चाटने लगा……तब वो तीसरी बार झड़ गयी…..और अपने हाथों से मेरा मूह अपनी थाइस पर रख दिया…..मैं उन्हे चाटने लगा…..वो आआआआआआअहह…….करने लगी…..उसकी चूत पर बॉल बहुत ही सुंदर थे….मैने उनपर हाथ फेरा तो वो मदमस्त हो गयी…….मैंने पहले उसकी चूत के बाहरी हिस्से को चाटना शुरू किया……फिर आहिस्ता आहिस्ता अंदर की ओर आया…..जी हाँ बिल्कुल वैसे जैसे तुम अभी अपनी चूत पर यह पढ़ते पढ़ते हाथ फेर रही हो……फिर मैने उसकी चूत को चाटना शुरू किया और उसने मेरे सर को अपनी टाँगों में जक्र लिया……मैने उसके चूत के अंदर अपनी जीभ डाल दी…..और अपनी दो उंगली उसके घाण्ड में…..वो करहाने लगी…मेरी चूत मार….ज़ोर से……आआहह…..फाड़ डाल इससे……तभी उसने चौथी बार अपना पानी मेरे मूह में निकाल दिया….वो पूरी तरह से झर चुकी थी…..मेरा लंड अब कंट्रोल से बाहर था…..उसने पकड़ा और अपनी चूत में घुसा दिया…..जैसे की मखन में गरम छुरी……फिकर मत करो मेरे अंदर कॉपर टी लगा है……बिंदास मार………आआहह……उफफफफफ्फ़……उम्म्म्ममम…..आआईयईईईई की आवाज़े आने लगी…..मेरा लंड उसकी चूत को चीर रहा था……आआहह….एसस्स्स्सस्स……मारो और ज़ोर से……उसका शरीर एक दम जाकड़ गया और उसकी चूत के मसल्स ने मेरे लंड को जक्द्ड़ लिया….वो एक फवारे की तारह बह गयी और मैने भी अपने लंड का पानी उसकी चूत को स्मर्पित कर दिया……वो पाँचवी बार झड़ चुकी थी…..उसकी ख़ुसी का कोई ठिकाना नही था…….आज तक हम दोनो मस्त सेक्स करते हैं और मज़ा करते हैं.


The post फ़ौजी आंटी का पानी निकाला पाँच बार appeared first on Hindi Sex.




फ़ौजी आंटी का पानी निकाला पाँच बार

No comments:

Post a Comment

Facebook Comment

Blogger Tips and TricksLatest Tips And TricksBlogger Tricks